SHABAD – Ik Tera Naam

 

Saturday Night, 16th March 2008, From 1:45 a.m. to 2:15 a.m.

 

 Wahe Guru, Wahe Guru, Wahe Guru, Wahe GuruWa…..He Gu…..Ru___2

 

1.  Ik Tera Naam Jo Jag To Pyaara Hai,

Rom-Rom Ne Ab Tujh Ko Pukaara Hai |

 

2.  Ik Tera Saath Sab Se Nyaara Hai,

Dekho Kaise Tarse Tera Ye Dulaara Hai |

 

3. Naina Ye Barse Chaahe Darash Tumhaara,

Pyaas Bujhaao, Pyaasa Tera Pyaara Hai |

 

4.  Noor Tere Naino Ka Aisa Sunnhera Hai,

Fir Se Dekhne Ko Tadpe Mann, Dhoondhe Kinaara Hai |

 

5.  Ab Bin Milan Nahi Mera Guzaara Hai,

Har Dil Ki Dhadhkan, Tera Hi Diwaana Hai |

 

6.  Jhaa Bhi Dekhu, Tera Hi Nazaara Hai,

Saanson Mei Baso Ho, Har Shawaas Tumhaara Hai |

 

7.  Roohon Ke Milan Ko Tann Mann Mei Uttaara Hai,

Diwaangi Maange Tera Hi Sahaara Hai |

 

8.  Is Janamo Ki Tadap Ko Tune Hi Ubhaara Hai,

Shaant Karo Mujh Ko Tujhme Samaana Hai |

 

9.  Ab Maanega Aur Jaanega Saara Yeh Zamaana Hai,

Teri Meri Diwaangi Ne Aisa Rang Laana Hai |

 

10.  Is Diwaangi Ne Ab Sir Chadker Jhum Jaana Hai,

Raman Ne Teri, Tujh Mei Jhum Jaana Hai, Anokha Noor Barsaana Hai -3

 

11.  Ik Tera Noor Chaand Taron Se Bhi Zyaada Hai, Suraj Se Bhi Zyaada Hai,

Nyaara Yeh Nazaara Badaa Nyaara Yeh Nazaara Hai |

 

12.  Ik Tera Saath Mujhe Jaan Se Bhi Pyaara Hai,

Tu Hai To Yeh Zamaana Hai, Tujh Par Mar Mit Jaana Hai |

 

वाहे गुरु, वाहे गुरु,वाहे गुरु, वाहे गुरु

वा…..हे गु…..रु  ___ 2

 

1 इक तेरा नाम जो जग तो प्यारा है,

रोम- रोम ने अब तुझ को पुकारा है|

 

2. इक तेरा साथ सब से न्यारा है,

देखो कैसे तरसे तेरा ये दुलारा है|

 

3. नैना यह बरसे चाहे दर्श तुम्हारा है,

प्यास बुझाओ, प्यासा तेरा प्यारा है |

 

4. नूर तेरे नैनों का ऐसा सुनहेरा है,

फिर से देखने को तडपे मन, ढूँढे किनारा है|

 

5. अब बिन मिलन नहीं मेरा गुज़ारा है,

हर दिल की धड़कन तेरा ही दीवाना है|

 

6. जहाँ भी देखूँ, तेरा ही नज़ारा है|

साँसों में बसे हो, हर शवास तुम्हारा है

 

7. रूहों के मिलन को तन- मन में उतारा है

दिवानगी माँगे तेरा ही सहारा है

 

8. इस जनमों की तड़प को तूने ही उभारा है

शांत करो मुझ को तुझमें सामना है

 

9. अब मानेगा और जानेगा सारा यह ज़माना है

तेरी मेरी दीवानगी ने ऐसा रंग लाना है

 

10. इस दीवानगी ने जब सरचढ़कर  झूम जाना है

रमण ने तेरी तुझ में रम जाना है

अनोखा नूर बरसाना है – 3

 

11. इक तेरा नूर चाँद तारों से भी ज़्यादा है

सूरज से भी ज़्यादा है,

न्यारा यह नज़ारा बड़ा न्यारा यह नज़ारा है

 

12. इक तेरा साथ मुझे जान से भी प्यारा है

तू है तो यह ज़माना है, तुझ पर मर मिट जाना है

 

16THMARCH SATURDAY NIGHT 1:45 P.M.On this date Guruji had made me write two songs 1st “Ik Tero Naam” 2nd “Tirche Nainaa Waale”
Continued in the Book…

  • (These are Divine words and not to be changed by anyone since that will not be in interest of anyone).
Click on pen to Use a Highlighter on this page
Get Adobe Flash player